• Wednesday, August 31, 2022

    Success Story in Hindi - Starbucks Success Story, स्टारबक्स

     Success Story in Hindi - Starbucks Success Story

    Starbucks Success Story in Hindi

    दोस्तों, आज हम आपको बताएंगे एक Success Story in Hindi, ऐसे Brand Name के बारे में जो पूरी दुनिया में अपने शानदार Coffee products के लिए जानी जाती है, और यहाँ पर मिलने वाली coffee की कोई तुलना ही नहीं की जा सकती। जी हाँ, दोस्तों में बात कर रहा हूँ American coffee Company और Coffee House Chain Starbucks की, जिसकी लोकप्रियता का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि आज दुनियाभर में इसकी करीब 27000 Coffeehouses खोले जा चूके हैं।

    हालांकि इस Company को सिर्फ एक outlet से तीन लोगों ने साथ मिलकर शुरू किया था। लेकिन इससे भी interesting बात यह है कि इस outlet पर काम करने वाले ही व्यक्ति ने आगे चलकर इस Company को खरीद लिया और उन्हीं की वजह से आज यह Coffeehouse इतना expand हो चुका है। तो चलिए दोस्तों बिना आपका ज्यादा समय लिए हम इस interesting story को शुरू से जानते हैं।

    तो शुरू करते हैं Starbucks ki Success Story in Hindi 

     
    तो दोस्तों इस कहानी की शुरुआत होती है आज से करीब 47 year पहले से। 31 March 1971 को तीन दोस्तों ने एक साथ मिलकर Seattle में एक छोटी सी shop खोली, जहाँ पर हाई quality Coffee Beans यानी कि Coffee के बीज बेचा करते थे। दरअसल यह तीनों दोस्त University of San Francisco में पढ़ते हुए एक दूसरे से मिले थे, और उनका नाम था Jerry Baldwin, Zev Siegl, and Gordon Bowker.

    दरअसल उस time मै एक बहुत ही famous coffee roasting व्यवसायी थे। जिनका नाम था Alfred Peet और इन्ही से inspire होकर तीनों दोस्तों ने अपना shop खोलने का फैसला लिया था। जब shop का नाम रखने का time आया तो उस time कई नामों पर चर्चा किया गया। जैसे Cargo House और Pequod भी उनमें शामिल था, लेकिन बाद में Moby Dick नाम के एक Novel से
    Starbucks नाम final किया गया।

    Also, read : Motivation Story in Hindi - राजा और वजीर की कहानी | Kahani

    Success Story in Hindi

    शुरुआती समय में वे Alfred Peet की shop से ही Coffee Beans खरीदा करते थे, लेकिन आगे चलकर जैसे जैसे Business बढ़, तो सीधा Coffee की खेती करने वाले लोगों से माल खरीदने लगे। फिर 1981 में shop के लिए एक Marketing Director, Howard Schultz को hire किया गया। और दोस्तों आपको बता दें कि Howard वह शख्स हैं, जिनकी वजह से Starbucks आज इतना बड़ा नाम बन चुका है।

    अब आप सोच रहे होंगे कि वो कैसे? तो चलिए हम आगे की story जानते हैं। तो Howard जो थे उनका जन्म एक बहुत ही गरीब परिवार में हुआ था, और वो अपने घर में एकमात्र ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने Graduation की थी। पैसों की कमी की वजह से उनके अलावा उनके घर में कोई भी ज्यादा पढ़ाई नहीं कर पाया था। इसलिए बचपन में की गई मेहनत और संघर्ष उनके काम करने के तरीके में साफ साफ दिखाई देती थी। Read full-
    Starbucks Success Story in Hindi.

    Starbucks को Join करने के बाद इस coffee shop की तो मानो किस्मत ही बदल गई। Profit कई गुना बढ़ गया और फिर एक बार Starbucks में काम करते हुए ही Howard को Italy के शहर Milan जाना पड़ा और वहाँ जाकर उन्होंने देखा कि coffee के लिए एक Proper Cafe है। जहाँ पर लोग सिर्फ coffee पीने के लिए ही नहीं बल्कि एक दूसरे से मिलने और समय बिताने भी आते हैं।

    Also, read: Short Motivational Story in Hindi for Success - कहानी

    Success Story

    यहाँ तक कि Business Meeting के लिए भी इस cafe को use किया जा रहा था। तभी उनके दिमाग में idea आया कि Starbucks अभी तक तो सिर्फ Coffee Beans बेचता है और Coffee Beans की quality को check करवाने के लिए वे अपने client को Coffee बनाकर पिलाते भी थे। लेकिन यह काम अगर एक Cafe के तौर पर किया जाए तो अच्छा खासा फायदा कमाया जा सकता है।

    Also, read : Munshi Premchand ki Kahani in Hindi - कफ़न Story in Hindi 

    जब वे वापस आए तो उन्होंने Starbucks के मालिको से अपना idea शेयर किया और उन्हें Espresso Coffee बेचने की सलाह दी। फिर काफी सोच विचार करने के बाद Starbucks के मालिको ने भी हाँ कर दी और Starbucks को एक Coffee Cafe के तौर पर भी खोला गया। अब Starbucks Coffee Beans के अलावा Espresso Coffee भी serve करता था और जब Business बढ़ता हुआ दिखाई दिया तो Howard के दिमाग में एक बार फिर से idea आया।

    क्यों ना इस cafe कि बहुत सारे Branches खोले जाए ताकि उनकी Brand Value भी बढ़ेगी और obviously उनका फायदा तो बढ़ेगा ही। लेकिन जब इस idea को उन्होंने Starbucks के मालिको से share किया तो उन्होंने साफ साफ मना कर दिया। दरअसल, उन्हें यहाँ एक बड़ा risk लग रहा था और वे cafe के तौर पर अपनी पहचान ज्यादा नहीं बनाना चाहते थे। हालांकि Howard ने कई बार आगे भी इस idea के लिए Starbucks के मालिको को मनाने की पूरी कोशीश की, लेकिन हर बार उन्हें निराशा ही हाथ लगी।


    दोस्तों चलिए जानते हैं Starbucks के Success Story in Hindi में आगे क्या हुआ ?

    Also, read : Akbar Birbal ki Kahani in Hindi - बीरबल की चतुराई

    coffee shop

    इसी बात से दुखी होकर उन्होंने job छोड़ने का फैसला किया और अपने सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने खुद का एक Cafe खोलने का सोचा। हालांकि उनके सामने अब आई पैसों की समस्या, लेकिन एक Doctor ने उनकी help की। ताकि Howard अपना cafe खोल सके और उनके Cafe का नाम था Giornale. Howard के Coffee cafe, Italy के Coffee cafe से काफी मिलते जुलते थे। जैसा कि उन्होंने Milan शहर में जाकर देखा था।

    Also, read : 7 Wonders of the World Names in Hindi - दुनिया के सात अजूबे 

    फिर आगे चलकर जैसा उन्होंने सोचा था, वैसे ही उनका Coffee Cafe बहुत सफल हुए। इसी बीच Starbucks ने 1984 में Alfred Peet की company Peet's को खरीद लिया था और अपना ध्यान Coffee Beans बेचने पर ही ज्यादा लगाए हुए थे। इसलिए Starbucks ने आगे चलकर अपनी Coffee Cafe Business, Howard को बेच दी और ये deal 3.8 Million dollar में final हुई थी।

    वैसे तो इस deal के लिए Howard के पास इतने पैसे नहीं थे, लेकिन उन्होंने कुछ investor की सहायता से यह deal final की। अब Starbucks Howard चला रहे थे और Starbucks के जो पहले मालिक थे वे Alfred Peet की company Peet's Coffee and Tea पर काम कर रहे थे। Howard ने Starbucks खरीदने के बाद अपने सोच के हिसाब से ही outlets बढ़ाने शुरू कर दिए और franchisee भी बांटी, जिसकी वजह से business काफी तेजी से आगे बढ़ती रही।

    Also, read : Prithviraj Chauhan History in Hindi, Biography पृथ्वीराज चौहान

    स्टारबक्स की सफलता की कहानी
    1992 आते आते इसके outlets की संख्या 140 पहुँच चुकी थी, और फिर आगे भी दुनिया के बहुत सारे देशों को cover करते हुए आज Starbucks Coffee houses की संख्या करीब 27000 पहुँच चुकी है। अगर बात की जाए अपने देश की तो भारत में Starbucks ने 2012 में enter किया, और यहाँ पर भी इसके Coffee को इतना पसंद किया गया कि फिलहाल देश में कुल 101 outlets खोले जा चूके हैं।

    एक समय तीन लोगों से शुरू हुई Starbucks में आज 2,40,000 से भी ज्यादा लोग काम करते हैं। Company की शुरुआत भले ही तीन लोगों ने की थी लेकिन company को असल ऊँचाइयों पर तो Howard ने ही पहुंचाया। क्योंकि उनके अंदर risk लेने की क्षमता थी और वे दूर की सोचते थे। उम्मीद है कि आपको Starbucks की  Success Story in Hindi जरूर पसंद आई होगी
    आपका बहुमूल्य समय देने के लिए बहुत धन्यवाद।

    Also, read : हाथी और तोता की कहानी - Hathi aur Tota ki Kahani | Hindi Story 

    Also, read : Pari ki kahani in Hindi - जादुई परी की कहानी - Hindi Kahani  

    Also, read : Pizza Delivery Horror Story in Hindi Part - 1 | पिज्जा डिलीवरी की -डरावनी कहानी  

    More,

    ➤ Real Horror Story in Hindi

    ➤ Hindi Kahani

    ➤ Historic Story

    ➤ Old Story

    ➤ Stories

    ➤ Writing

    No comments:

    Post a Comment