• Sunday, May 15, 2022

    अपार्टमेंट की सच्ची डरावनी कहानी - Short Horror Story in Hindi

    अपार्टमेंट की सच्ची डरावनी कहानी - Short Horror Story in Hindi 

    अपार्टमेंट की सच्ची डरावनी कहानी - Apartment Ki Sachi Darawni Kahani - Short Horror Story in Hindi
    Short Horror Story in Hindi

    Hello दोस्तों आज मैं आपको अपार्टमेंट की सच्ची डरावनी कहानी (Apartment Ki Sachi Darawni Kahani) Short Horror Story in Hindi मैं सुनाने जा रहा हूं उम्मीद है आपको यह कहानी बहुत अच्छी लगेगी।



    मै आपने  उम्र के 40 साल पर था और यह आज से लगभग 28 साल पहले की बात है।  एक दिन मैं अपने दोस्त से मुलाकात करने के लिए उसके apartment में पहुंचा, वह apartment बहुत ही  पुराना है जर्जर Condition मै था। उसके apartment की गैलरी के center में lift थी मुझे अच्छी तरह से याद नहीं लेकिन मेरा दोस्त 7th  या 8th मंजिल पर Unit  701 या 801  में रहता था, इसलिए apartment के बाहर से भी उसका जो Flat  था वो  दिख जाया करता था।

    उसका flat दूर एक left side मै था और  एक दिन गर्मी की बात है। मेरे दोस्त ने मुझसे कहा कि वह अकेला था और उसका कोई भी plan नहीं है। इसलिए हमने अपने दो और दोस्तों को वहा पर बुला लिया और Drinking party की, हम चारो दोस्त शाम से शराब पी रहे थे और वहा  से जाने से पहले हम सभी फर्श  पर लेट गए और एक दूसरे से बातें करने लगे।

    रात का वक़्त था अंधेरा हो रहा था और बाहर street light की जो रोशनी थी वो खिड़की से आ रही थी, और flat की छत उसी रोशनी से चमक रही थी, i think apartment के 1st floor पर street light लगी हुई थी मेरे ख्याल से। हम सभी छत की ओर देख रहे थे और एक दूसरे से बातें कर रहे थे और अचानक वह सफेद छत एकदम काले  रंग मै बदल गई मनो किसी ने कुछ ढक दिया हो।

    फिर हमने खिड़की के बाहर देखा तो steel की खिड़की के बाहर खौफनाक आवाज के साथ कुछ लटका हुआ था, और जो था रोशनी उस के पीछे से आ रही थी। इसलिए हम साफ़ तौर पर  उसका चेहरा नहीं देख सकते थे और फिर उसने अपने एक इशारे के साथ हँसतेहुए अपने दाँत दिखाएं और बिना आवाज किये मुस्कुराने लगा उस समय हम सारे के सारे बहुत ज्यादा चौक गए थे।

    हमें बात करनी बंद कर दी थी और एकदम चुप्पी के साथ हमलोग मनो जम गए थे। अचानक हम मै से किसी ने एक शराब की bottle उठाई और उस बोतल को लेकर खिड़की की ओर भागा उसे मारने के लिए उसको। "मार डालो उसको ".

    लकिन तब तक वो डरावना आदमी गायब हो गया था, उसके  कुछ minute बाद हम flat से बाहर निकली उसको ढूंढने के लिए लेकिन हम उसे ढूंढ नहीं पाए। शायद वो सीढ़ियों से नीचे चला गया था। हम सिर्फ उसके कदमों की आवाज सुनते थे ऐसा लग रहा था कि वह gallery se entry करके सीडीओ से नीचे चला गया है।

    अब अगर हमें उसे ढूंढना था तो सीढ़ियों से नीचे जाना ही एक तरीका था। हम उसकी कदमों की आवाज साफ तौर पर सुन पारहे थे, ऐसा लग रहा था कि वह पहली मंजिल पर उत्तरा हैं और घूम रहा है और फिर हमने उसकी तलाश करनी यहां से वहां शुरू कर दी लेकिन फिर ज्यादा वक्त ना waste करते हुए हम सभी डर से भरे हुए वापस फ्लैट में लौट आएं apartment में।

    हमने सोचा कि जो खिड़की से बाहर लटक के हस रहा था सायद कोई शायद चोर या डकैत होगा। फिर जब हम वापस लौट के आए तो हम सभी चौक गए क्यों की गैलरी के एंड में और हमारे दोस्त के apartment के flat की खिड़की के बीच की दूरी बहुत लंबी हो गई थी और तभी हमारी नजर सामने खिड़की पर पड़ी तो हमने देखा कि खिड़की कि स्टील की रॉड को पकड़ कर कोई लटका हुआ था कूदने के लिए।

    और ऐसा कोई पागल इंसान ही कर सकता था एक आम इंसान इस तरह से खिड़की की रॉड को पकड़कर लटक नहीं सकता था। हमने सोचे कि कहीं किसी ने खिड़की  कि steel की रोड को काट कर apartment से कूदकर आत्महत्या तो नहीं कर ली।

    हम सभी देखने के लिए पहली मंजिल पर गए  लेकिन वहां किसी की body क्या एक सिंगल निसान भी नहीं था। उस खौफनाक अनुभव के बाद मै अपने दोस्त के घर फिर कभी नहीं गया.


    दोस्तों हमें उम्मीद है आपको यह अपार्टमेंट की सच्ची डरावनी कहानी पसंद आई होगी, Comment करके जरूर बताएं


    No comments:

    Post a Comment